जमवारामगढ़

From meenawiki
Jump to: navigation, search

जमवारामगढ़ ढूंढाड़ अंचल का प्राचीन कस्बा है जो जयपुर से लगभग 30 किमी उत्तर-पूर्व में स्थित है। कछवाहों के आगमन से पूर्व यह स्थान मांच[1] (मंच) कहलाता था। यहां का राजा राव नाथू था।[2] प्राचीन ख्यातों में इस बात का उल्लेख है कि दूल्हराय ने मीणाओं से पराजित होने पर देवी की अराधना की और देवी ने संतुष्ट होकर उसे दर्शन दिये। फ़लत: देवी की प्रेरणा से प्रोत्साहित होकर दूल्हराय ने फ़िर से युद्ध किया, उस समय मीणा शासक अपना विजयोत्सव मना रहे थे। दूल्हराय के इस अचानक और अप्रत्याशित आक्रमण से वे युद्ध के लिये संभल नहीं पाये और मांच पर दूल्हराय का अधिकार हो गया। तदन्तर अपने पूर्वज भगवान राम के नाम पर उन्होंने मांच का नाम बदलकर रामगढ़ रख दिया। यह मांच का प्रथम युद्ध था ।

संदर्भ

  1. कर्नल टाड: एनाल्स एण्ड एन्टीविक्टीज ओफ़ राजस्थान जि. 2. पृ. 283
  2. हनुमान प्रसाद शर्मा: नाथावतों का इतिहास पृ. 36

यह लेख एक आधार है। इसे बढ़ाकर आप मीणा विकिपीडिया की सहायता कर सकते हैं।