राजा देवी

From meenawiki
Jump to: navigation, search
राजा देवी

राजा देवी (सांगानेरी गेट,जयपुर ) आपका जन्म 4 जुलाई, 1917 को हुआ । आपके पिता का नाम श्री मंगलाराम पबड़ी था । 1923 में आपका विवाह मीणा जाति के प्रमुख सेवक तथा स्वतन्त्रता सेनानी श्री लक्ष्मीनारायण झरवाल के साथ हुआ । जब आपके पति श्री लक्ष्मीनारयण झरवाल ने समाज सुधार के लिये आर्य समाज में कार्य करना प्रारम्भ किया तो आप भी समाज सुधार के कार्यों से जुड गई । आपके ही कर कमलों से आर्य समाज किशनपोल बाजार, जयपुर में ज्ञानवती का विवाह भैरूलाल काला बादल के साथ सम्पादित हुआ । श्री बादल आगे चलकर एक होनहार युवक सिद्ध हुए और राजा देवी की प्रेरणा से समाज सेवा में रूचि लेने लगे, जो आगे चलकर राज्य मंत्रिमंडल के सदस्य रहे । यह सब इनकी प्रेरणा से ही हुआ । राजा देवी अपने पति श्री लक्ष्मीनारायण झरवाल के साथ कंधे से कंधा मिलाकर समाजोत्थान में लग गई । स्वतंत्रता सेनानी एवं लोकप्रिय नेता होने के कारण श्री झरवाल के घर पर मिलने वालो का तांता लगा रहता था । इन लोगो की सेवा श्रीमती राजा देवी बहुत ही तन्मयता से करती थी । आप छुआछूत में कतई विश्वास नहीं करती थी । मीणा समाज में व्याप्त सामाजिक बुराईयों को दूर करने में आप बराबर जुटी रही ।

अपने पति के साथ प्रजा मंडल, आर्य समाज के कार्यों में भाग लेने लगी । जब आपके पति जेल गए तो आपने अपना धैर्य नहीं खोया और प्रसन्नता से जन आन्दोलन में भाग लेती रही और समय देती रही । इस तरह पूरा झरवाल परिवार समाजसेवा में लगा रहा । आपके तीन पुत्र हें । ओम प्रकाश,सत्येन्द्र कुमार और महेंद्र कुमार हें । विशेष बात यह हें की राजा देवी का पूरा परिवार बहुत ही सदाचारी एवं समाज सेवक है ।

संदर्भ