सत्तावन

From meenawiki
Jump to: navigation, search
Sattavan.jpg
Author of this article is पी एन बैफलावत

Origin

प्राचीन काल में जिला दौसा की सिकराय तहसील के गाँव लाका में लकवाल और बरावण्डा में सत्तावन लोगो का कबीलाई मेवासा (सत्ता) था

History

प्राचीन काल में जिला दौसा की सिकराय तहसील के गाँव लाका में लकवाल और बरावण्डा में सत्तावन लोगो का कबीलाई मेवासा (सत्ता) था जो राजपूतो की सत्ता को चुनौती देते रहते थे | आज भी बरावण्डा के पहाड़ पर पुराने मकानात के भग्नावशेष देखे जा सकते हैं | चूँकि इस आदिवासी कबीले के सरदार ने बीहड़ जंगल में अपनी सत्ता कायम की इसलिए इनकी पहचान सत्तावन ( वन में सत्ता स्थापित करने वाले ) से हुई | सत्तावन जिस पहाड़ी पर रहते थे, वहां एक गुफा भी है जहाँ इनकी कुलदेवी का स्थान है | कहते हैं जब भी सत्तावन किसी से युद्ध करने निकलते तो अपनी कुलदेवी से आशीर्वाद अवश्य लेते थे | इससे उनका आत्मविश्वास सर्वोच्च शिखर पर रहता था और हर जंग में उनकी विजय सुनिश्चित हो जाती थी अतः उनकी देवी के प्रताप से वे अपने बैरियों को परास्त करने में सफल होते थे इसलिए अपनी कुल देवी को बैराय माता(भैराय) के नाम से संबोधित करने लगे और कुल देवी के नाम से ही इस राज्य का नाम बहरावण्डा हुआ |

राजपूतो से इनका सत्ता संघर्ष चलता रहता था |ये न उनकी शर्ते मानते थे व न किसी प्रकार की लागबाग देते थे | राजपूत इस मीना मेवासे को ख़त्म करने की फिराक में थे | सत्तावन दीपावली के बाद आने वाली चौदस को जलतर्पण करते थे | अतः उचित अवसर जान उस दिन पानी देते निहत्य सत्तावन मीना पर हमला कर दिया, उसमे सभी मारे गए | कहते हैं इस वंश की एक औरत अपने पीहर टोडाभीम गई हुई थी जो गर्भ से थी | जब वह वापस बहरावण्डा आ रही थी तो कुल देवी ने बिना सर वाले पाडे पर बैठकर उसे रस्ते में ही रोका | वर्तमान जोध्या गाव की जगह जंगल था वो औरत वहीँ छिप गई | वह उसके एक पुत्र हुआ | उसी से पुनः सत्तावन वंश चला | उसके तीन पुत्र हुए 1.जोधा 2.गैरा 3.गैण्डा, उन्होंने तीन गाव बसाये – जोध्या , गैरोटा और गण्डरावा फिर ये अन्य गाँव में फैले |

Population

Distribution

राजस्थान में सत्तावन गोत्र के गाँव 1. जोधा, मौलाई, बाढ़, गढ़ी, गैरोटा, गण्डरावा, भराव, भावगढ़, मीना सीमला, त० सीकराय दौसा 2. दुलवा त० बसवा 3. कांकरिया त० लालसोट 4. हापावास, धरणवास त० दौसा 5. गौनड़ी, अडुका, पाटणवास, मानपुरा त० राजगढ़ अलवर 6. करीरी, नांगल शेरपुर त० टोडाभीम 7. सलावाद त० नादौती 8. सेवा,खेड़ली (गंगापुर) सवाईमाधोपुर 9. ठीकरिया (बामनवास)सवाईमाधोपुर 10. मण्डावरा उनियारा टोंक 11. ऐरिपुरा, हीरापुरा त० नैनवा बूंदी 12. सुरारीखुर्द बसेडी धोलपुर 13. रूपपुरा, सुभासपूरा अटरू कोटा 14. प्रेमपुरा तहसील पीपल्दा कौटा 15. नांगल बंथा त० भरतपुर 16. इटयडा त०बैर भरतपुर 17.कोटड़ी ,झरखेड़ी छबड़ा 18 कालाखोह,पट्टीन

Notable persons

References