Category talk:धर्म

From meenawiki
Jump to: navigation, search

सतनाम धर्म के अनुयायी केवल परमपूज्यनीय गुरूघासीदास बाबा, उनके सुपूत्रों और वंशजों द्वारा बताये गये सदमार्ग और बनाये नियमों का ही पालन करते हैं l सतनाम धर्म को जानने के लिए मै छोटा सा परिभाषा प्रस्तुत करता हूं :- “सतनाम धर्म का अनुयायी वह है, जिसके आचरण में सत्य, अहिंसा, परोपकार, शिक्षा, प्रेम, मार्गदर्शन, दया और क्षमा का समावेश हो, जो समग्र ब्रम्हाण्ड के जीवधारियों के लिए उक्त भाव रखता है, आचरण करता है तथा मूलत: मानव-मानव एक समाज का सिद्धान्त व परमपुज्यनीय गुरूघासीदास बाबा द्वारा बताये मार्ग में चलता हो और नियमों का पालन करता है l”

सतनाम धर्म

सतनाम धर्म के अनुयायी केवल परमपूज्यनीय गुरूघासीदास बाबा, उनके सुपूत्रों और वंशजों द्वारा बताये गये सदमार्ग और बनाये नियमों का ही पालन करते हैं l सतनाम धर्म को जानने के लिए मै छोटा सा परिभाषा प्रस्तुत करता हूं :- “सतनाम धर्म का अनुयायी वह है, जिसके आचरण में सत्य, अहिंसा, परोपकार, शिक्षा, प्रेम, मार्गदर्शन, दया और क्षमा का समावेश हो, जो समग्र ब्रम्हाण्ड के जीवधारियों के लिए उक्त भाव रखता है, आचरण करता है तथा मूलत: मानव-मानव एक समान का सिद्धान्त व परमपुज्यनीय गुरूघासीदास बाबा द्वारा बताये मार्ग में चलता हो और नियमों का पालन करता है l”