चांदा राजवंश

From meenawiki
Revision as of 08:03, 24 December 2018 by Bhuvnesh meena (Talk | contribs)

(diff) ← Older revision | Latest revision (diff) | Newer revision → (diff)
Jump to: navigation, search

राजा आलनसिंह/लालनसी(खोह)

खोह गंग चांदा मीणा नगरी को बसाने का श्रेय चंदवंशीय महाराज गंग को जाता हैं।पहाड़ी की तलहटी में शासक द्वारा पानी की व्यवस्था हेतु एक बावड़ी का निर्माण कराया गया तथा भक्ति आराधना के लिए एक शिव मंदिर बनवाया क्योंकि मीणा लोग हमेशा से शिव भक्त रहे हैं जिसके प्रमाण सिंधुघाटी सभ्यता से भी मिले हैं कि मीना लोग शिव भक्त रहते आये है।बहुत से शिलालेखों व अन्य ऐतिहासिक तथ्यों से ज्ञात होता है कि चांदा गौत्रीय मीना यहाँ का शासक रहा है। कई लेखकों ने इस शासक को अपने अपने तरीके से लिखा है। डॉ यशोदा मीना ने इस शासक को आलनसिंह के नाम से बताया है तथा इसका कार्यकाल सन 1090-1147 ई तक बताया है तथा डॉ बीएस भार्गव ने इसका नाम रालन सी बताया है और कर्नल जेम्स टॉड ने अपने इतिहास मे इसको लालनसी बताया है।